ABOUT US

मै कौन हूँ ? 

curiousdaya.com ब्लॉग पर आपका स्वागत है। मेरा नाम daya है. यह ब्लॉग हमने उन लोगों की मदद करने के लिए बनाई है जो सिखने की तीव्र इच्छा रखते है और अपने एक-एक पल को पूरी जागरूकता

और आनंद के साथ एक जीवंत जीवन जीना चाहते है.

Why the name of this blog is Curious Daya

मेरा थोड़ा Curious Nature का हूँ। इसलिए हमने इस ब्लॉग का नाम curiousdaya रखा है। और हमे पूर्ण विश्वास है की इस ब्लॉग से लाखो लोग जुड़ेंगे जिनका अधिक से अधिक सिखने का स्वभाव by Nature रहता है.

और साथ मिलकर GUEST POST के द्वारा हमारी और लोगो की मद्दत करेंगे। क्योकि मनुष्य का निजी स्वभाव जिज्ञासु कुछ नया सीखना और एक दुसरे का सहायता करना होता है.

My Helping Nature

मुझे भी लोगो का help करना बहुत अच्छा लगता है। मुझे याद है इंजीनियरिंग के दिनों में मै अपने दोस्तों की खूब help करता था. उनके लिए नोट्स बनाता, गूगल से Youtube से और ब्लॉग से एक-एक Topic खूब अच्छे से तैयार करता।

क्योकि, मुझे पता रहता था। पढ़ाते समय वो मुझसे क्या-क्या Cross Questions कर सकते है।

यही सिखने सिखाने की लत हमे तब से ही लग गयी और इसका नतीजा ये हुआ की उनका फायदा इससे चाहे जितना हुआ हो।

लेकिन मेरा इससे बहुत बहुत बहुत फायदा हुआ मेरे इंजीनियरिंग में First Division Hons के साथ 80% Marks आ गया.

My Topper’s journey in engineering from a small village in UP.

मै इसे दोस्तों का दुआ और अपना Hard Work मनाता हूँ। नही तो मै UP के एक छोटे से गाव से लखनऊ जैसे city में अव्वल अंक से इंजीनियरिंग पास हो जाऊंगा।

हमने कभी सोचा ना था। ऐसा इसलिए क्योकि एक तो मै UP Board से था। दूसरा मेरी इंग्लिश बहुत कमजोर थी।

first year हमे अगर अंग्रेजी का एक वाक्य लिखना पड़ता था या कोई Derivation याद करना पड़ता था तो उसमे भी हम गलती कर देते थे.

लेकिन, कुछ अच्छे लोगो का साथ मिला. जैसे संदीप महेश्वरी सर, Vivek Bindra सर और भी बहुत से लोग जिनका विडियो हम देखते थे.

धीरे-धीरे उन्होंने मेरे अंदर आत्मविश्वास भरा की कोई यहां कमजोर नही है. हर इन्शान यूनिक है, हर इन्शान जीनियस है. और मेरे अंदर कुछ आगे बढने के चाह थी ही. और first year के first सेमेस्टर में ही मैं 80% से कॉलेज टॉप कर दिया.

ये तो मेरे लिए चमत्कार था. और ना ही लोगो को विश्वास हो रहा था. ना ही हमे. उसी बिच हमने अब्दुल कलाम सर की एक महान Quote पढ़ लिया.

अगर आप पहली सफलता के बाद दूसरी बार असफल होते है तो लोग आपके पहली सफलता पर संदेह करेंगे

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम

हमने भी सोचा बात तो सही है. उसके बाद लग गया पूरी तरह सिखने के पीछे और मेहनत करने के पीछे. भूल गया मैं कभी कमजोर भी था. मेरा दिमाग मान लिया की मैं topper ही हूँ. और एक वो दिन है एक आज का दिन है मै कभी पीछे मुड़ के नही देखा.

My hobbies.

मुझे हिंदी Quotes, सफल लोगो की Biography, Self improvement, Personality Development, Brahmachary, Book Review, Golden Thoughts , Millionaire mindset, और Millionaire habits पर लिखना बहुत अच्छा लगता है.

देखिये Mindset इसलिए क्योकि सबसे पहले हमे यही सीखना होगा की आखिर Millionaire लोग सोचते कैसे है.

अगर हम लोग उनके Thought Process को समझ जायेंगे तो हमारे सफल होने के Chances बढ़ जायेंगे. और Habits इसलिए क्योकि Small habits make BIG diffrence.

ज्योही हम सफल लोगो की तरह बोलने, करने, और सोचने लगते है तो हम सफलता की ओर आगे बढ़ने लगते है. चाहे वो Millionaire का सफ़र हो या फिर Billionaire का. और भी हमे बहुत सी चीजे अच्छी लगती है जैसे ऑडियो बुक सुनना. Osho के महा ज्ञान को सुनना.

अगर आप ओशो को सिर्फ एक महीना ही सुन लेते है तो आपका जीवन Miracle की तरह बदल जाएगा. जिससे आप खुद हैरान हो जायेंगे. और हम Manthanhub Youtube Channel को follow करते है

जिन्होंने हमे Brahmachary का ज्ञान दिया. हम उन्हें सादर कोटि कोटि धन्यवाद देते है.

जिनके वजह से मेरा जीवन पूरी तरह बदल गया. दुसरे शब्दों में कहे तो धरती पर स्वर्ग जैसा जीवन जीने का मौका मिला.

My Purpose, to create this Blog

इससे पहले हमने बहुत से ब्लॉग पर काम किया जैसे Tech, एंटरटेनमेंट, और Quotes वाली ब्लॉग. लेकिन कोई मेरे इंटरेस्ट से मैच नही करता तो किसी में Competition बहुत थी.

मतलब उस Niche / Topic पर पहले से बहुत से ब्लॉग थे. तो मैंने सोचा की मुझे किसी चीज को समझ कर समझाना और लोगो का help करना बहुत अच्छा लगता है। जिस तरह का Learning और Explanation मै सोच रहा था हिंदी में देने के लिए वो पुरे इन्टरनेट में नही था.

मेरा आईडिया यूनिक था इसलिए मैंने इस niche / topic पर ब्लॉग बनाया. मैंने सोचा money making तो बहुत सारे ब्लॉग है तो क्यो ना लाइफ making ब्लॉग बनाया जाय.

इस पहल में आपका साथ चाहिए. इसमें आप दो तरह से हमारी help कर सकते है पहला आप ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पोस्ट shere करके और guest post के द्वारा आप अपना Contribution दे सकते है.

जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगो का अनुभव रहेगा तो ज्यादा सिखने को मिलेगा. guest पोस्ट में आप हर वो चीज पोस्ट कर सकते है जो लोगो को कुछ ना कुछ सिखने के लिए दे. और आपके जीवन के अनुभव से दुसरे के जीवन में लाभ पहुचें.

इस ब्लॉग को खूब सारा प्यार देने के लिए हम आपको बहुत-बहुत धन्यवाद देते है. आपको अभी कोई मदद चाहिए या फिर आप हमसे कुछ पूछना चाहते हैं तो आप हमें dayacurious@gmail.com पर सीधे mail कर सकते हैं।

Leave a Comment